Vinay Murder Case: एक और नया खुलासा, पिस्टल पर मिले अंकित समेत दो लोगों के फिंगर प्रिंट, …तो इस तरह हुई घटना

Vinay Murder Case: एक और नया खुलासा, पिस्टल पर मिले अंकित समेत दो लोगों के फिंगर प्रिंट, …तो इस तरह हुई घटना

भाजपा कार्यकर्ता विनय श्रीवास्तव हत्याकांड में मुख्य आरोपी मंत्री के रिश्तेदार अंकित वर्मा के खिलाफ एक ठोस सबूत की पुष्टि हुई है। फोरेंसिक जांच से खुलासा हुआ है कि आलाकत्ल (पिस्टल) पर अंकित का फिंगरप्रिंट है। इसके अलावा एक और व्यक्ति का फिंगरप्रिंट मिला है। आशंका है कि दूसरा फिंगर प्रिंट आरोपी अजय रावत का है। पुलिस ने घटना स्थल से पिस्टल को बरामद कर जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजा था। साथ ही आरोपियों के फिंगरप्रिंट लिए थे। पुलिस के मुताबिक फोरेंसिक जांच में पिस्टल पर दो लोगों के फिंगरप्रिंट मिले हैं। इसमें एक फिंगरप्रिंट आरोपी अंकित का होने की पुष्टि हो गई है।फुटेज पर मुहर
घटना की रात का एक फुटेज दो दिन पहले सामने आई थी, जिसमें विनय ड्राइंग रूम से अचानक पलट कर भीतर जाते दिखा था। इसी दौरान ड्राइंग रूम में फर्श पर लेटा अजय अचानक उठा था और सिरहाने पर रखी पिस्टल उठाकर भीतर जाते दिखा था। अब जब फोरेंसिक में पिस्टल पर दो लोगों के फिंगरप्रिंट की पुष्टि होने से यह लगभग स्पष्ट है कि यह फिंगरप्रिंट अजय का ही है। बाकी तथ्य आगे की जांच में सामने आएंगे।

…तो इस तरह हुई घटना 
सीसीटीवी फुटेज और फोरेंसिक जांच से अंदेशा है कि विवाद के बाद अजय पिस्टल लेकर उस कमरे में गया, जहां का कैमरा बंद था। उसी कमरे में विनय के अलावा अंकित वर्मा व शमीम मौजूद थे। अजय ने पिस्टल अंकित को दी और अंकित ने विनय को गोली मार दी।

विनय हत्याकांड की हो सीबीआई जांच
विनय श्रीवास्तव हत्याकांड के संबंध में बुधवार को अखिल भारतीय कायस्थ महासभा ने प्रेसवार्ता की। मृतक के बड़े भाई विकास श्रीवास्तव की मौजूदगी में संगठन के पदाधिकारियों ने पुलिस के खुलासे पर असंतुष्टि जाहिर करते हुए मामले की सीबीआई जांच की मांग की।

संगठन के अध्यक्ष इंद्रसेन श्रीवास्तव ने कहा कि पीड़ित परिवार को सरकार एक करोड़ रुपये मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दे। विकास ने कहा कि भाई की हत्या के बाद से पूरा परिवार सदमे में है।

वह बस इतना चाहते हैं कि उस रात घटनास्थल पर जो भी हुआ, उसका पूरा सच सामने आए। पुलिस सारे सुबूत रखे। विकास ने कहा कि उनको पुलिस पर भरोसा है। उम्मीद है कि निष्पक्ष जांच होगी। हालांकि, वे चाहते हैं कि प्रकरण की जांच सीबीआई करे। अगर जांच सीबीआई करती है तो निश्चित ही न्याय मिलेगा।

दोषी बचे नहीं, निर्दोष फंसे नहीं
उधर, सपा के प्रतिनिधिमंडल ने विनय श्रीवास्तव के फरीदीपुर स्थित घर पहुंच कर घटना से संबंधित जानकारी ली। प्रदेश उपाध्यक्ष सीएल वर्मा, सपा प्रवक्ता दीपक रंजन श्रीवास्तव ने कहा कि सरकार विनय हत्याकांड की जांच केंद्रीय एजेंसी से कराए। दोषी बचें नहीं और किसी निर्दोष पर कार्रवाई न हो। इसके अलावा मृतक परिवार को सरकार उचित मुआवजा दे। इस मौके पर सोनू कनौजिया, जिला अध्यक्ष जयसिंह जयंत सहित कई लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *