यूपी: पंजाब में रेलवे ट्रैक पर बैठे किसान, 10 ट्रेनें हुईं प्रभावित, रोहाना में रोकनी पड़ी शालीमार एक्सप्रेस

यूपी: पंजाब में रेलवे ट्रैक पर बैठे किसान, 10 ट्रेनें हुईं प्रभावित, रोहाना में रोकनी पड़ी शालीमार एक्सप्रेस

पंजाब में अलग-अलग रेलवे लाइन पर किसानों के बैठने से ट्रेनों का संचालन बिगड़ गया। सहारनपुर से होकर गुजरने वाली 10 ट्रेनें प्रभावित रहीं। शहीद, गंगा सतलुज, छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को निरस्त करना पड़ा, जबकि कर्मभूमि, श्रीगंगानगर एक्सप्रेस को अंबाला तक चलाया गया। अन्य छह ट्रेनों का रूट बदलकर संचालन किया। इस कारण यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।बृहस्पतिवार को दोपहर बाद किसानों ने पंजाब के अलग-अलग रेलवे ट्रैक पर बैठकर धरना दिया। अपनी मांगों को लेकर किसानों द्वारा किए जा रहे विरोध से पंजाब की तरफ से ट्रेनें नहीं चली। ऋषिकेश, हावड़ा, बिहार, न्यू जलपाईगुड़ी की ओर से आने वाली ट्रेनों का संचालन भी बिगड़ा रहा।

वहीं, हावड़ा-जम्मूतवी हिमगिरी, जम्मूतवी-वाराणसी बेगमपुरा, कोलकाता-अमृतसर अकालतख्त और जम्मूतवी-कानपुर सेंट्रल सुपरफास्ट एक्सप्रेस का रूट बदलकर चलाया गया। ट्रेनों के अचानक रद्द होने और रूट बदलने से बस अड्डे पर भीड़ रही। रोडवेज बसों से यात्री अपने गंतव्य तक पहुंचे। लोगों को भी मुसीबतों का सामना करना पड़ा। स्टेशन अधीक्षक अनिल कुमार त्यागी ने बताया कि पंजाब में अलग-अलग रेलवे ट्रैक पर किसानों के आने से ट्रेनें प्रभावित हुई।

ये ट्रेनें हुई प्रभावित
-14674 अमृतसर-जयनगर शहीद एक्सप्रेस रद्द रही

-18238 अमृतसर-बिलासपुर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस रद्द रही

-13308 फिरोजपुर-धनबाद गंगा सतलुज एक्सप्रेस रद्द रही

-12407 न्यू जलपाईगुडी-अमृतसर कर्मभूमि एक्सप्रेस अंबाला तक

-14711 ऋषिकेश-श्रीगंगानगर एक्सप्रेस अंबाला तक चली

-12331 हावड़ा-जम्मूतवी हिमगिरी एक्सप्रेस को वाया जालंधर से निकाला

-12238 जम्मूतवी-वाराणसी बेगमपुरा एक्सप्रेस को वाया जालधंर

-14617 बनमनखी-अमृतसर जनसेवा एक्सप्रेस वाया लुधियाना

-12317 कोलकाता-अमृतसर अकालतख्त एक्सप्रेस को वाया लुधियाना

-12470 जम्मूतवी-कानपुर सेंट्रल एक्सप्रेस को वाया जालंधर-नाकोदर जंक्शन

पंजाब में पटरी पर जमे किसान तो रोहाना में रोकनी पड़ी शालीमार

पंजाब में किसानों के आंदोलन के चलते शालीमार जम्मू तवी एक्सप्रेस का संचालन भी प्रभावित हुआ। ट्रेन को पहले मुजफ्फरनगर और फिर रोहाना कलां स्टेशन पर रोककर रखा गया। यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए रोहाना से ट्रेन को सहारनपुर के लिए रवाना कर दिया गया।

शालीमार जम्मू तवी एक्सप्रेस अपने तय समय से करीब 15 मिनट की देरी से रात पौने आठ बजे मुजफ्फरनगर पहुंची थी। यहां करीब सवा घंटा ट्रेन खड़ी रही। इस दौरान यात्री परेशान रहे। पूछताछ खिड़की पर यात्रियों को ट्रेन रोके जाने की स्पष्ट जानकारी नहीं मिल सकी। रात नौ बजे ट्रेन को रवाना किया गया तो यात्रियों ने राहत की सांस ली। लेकिन कुछ ही मिनट बाद ट्रेन को रोहाना कलां स्टेशन पर रोक लिया गया। जंगल में ट्रेन करीब सवा घंटे खड़ी रही। इस दौरान यात्रियों ने मुश्किलें झेली। रेलवे अधिकारियों ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए ट्रेन को सवा दस बजे सहारनपुर के लिए रवाना कर दिया है। पंजाब में किसानों के रेलवे ट्रैक पर बैठ जाने के कारण ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *